फुट ड्रॉप समस्या क्यों उत्पन्न होती है और इसके होने के मुख्य लक्षण क्या है ?

फुट ड्रॉप एक ऐसी समस्या है जिसमे पैर के अगले हिस्से को उठाने में काफी परेशानियों का सामान करना पड़ता है | फुट ड्रॉप से पीड़ित व्यक्ति को चलते समय अपने पैर के अगले हिस्से को जमीन पर घिसट कर चलता है | आइये जानते है फुट ड्रॉप समस्या क्या है और इसके मुख्य लक्षण कौन से है :- 

यूनियन सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल के सीनियर कंसल्टेंट स्पेशलिस्ट है, उन्होंने अपने यूट्यूब में  पोस्ट एक वीडियो में यह बताया की फुट ड्रॉप यानी पैर का गिरना कोई बीमारी नहीं है, बल्कि यह एक ऐसी समस्या है जिसमे पीड़ित व्यक्ति को विलीन तंत्रिका संबंधी मांसपेशियों और शारीरक द्वारा समस्या होने का संकेत मिलता है | कई मामलो में पैर का गिरना अस्थायी हो जाता है, जिसकी वजह से कई लोगों को अपने पैर को सहारा देने के लिए और उसे सही स्थिति में बनाये रखने के लिए गुलफ़ या फिर पैरों में ब्रेस का इस्तेमाल करते है | आइये जानते है इसके मुख्य लक्षण के बारे में :- 

फुट ड्रॉप होने के मुख्य लक्षण क्या है ? 

फुट ड्रॉप से पीड़ित व्यक्ति को अपने पैर के अगले हिस्से को उठाने में काफी परेशानी होती है, जिसकी वजह से वह चलने के दौरान पैरो को जमीन पर घिसट कर चलता है | इससे पीड़ित व्यक्ति हमेशा सामान्य से भी ज़्यादा अपनी जांघ को उठाकर चलता है, जैसे की वह सीढ़ियां चढ़ रहा हो | इस असमान्य चाल को स्वास्थ्य सेवा प्रदाता स्टेपपेज गेट भी कहते है | कई मामलो में तो यह भी देखने को मिला है की इस समस्या से पीड़ित व्यक्ति को पैर और उनकी उँगलियाँ की ऊपरी त्वचा  में सुन्न होने का अनुभव होता है | फुट ड्रॉप की समस्या के कारण व्यक्ति के एक या दोनों पैरों पर काफी नकारत्मक प्रभाव पड़ सकता है | 

फुट ड्रॉप होने के मुख्य कारण क्या है ?

पैर के अगले हिस्से को उठाने के साथ-साथ मांसपेशियों में कमज़ोरी आने और लकवाग्रस्त की समस्या होने के कारण भी फुट ड्राप हो सकता है | आइये जानते है इसके मुख्य कारण:-

  • तंत्रिका तंत्र में चोट लगना :- फुट ड्रॉप समस्या का सबसे आम कारण है पैर के तंत्रिका प्रणाली का दबना, जो पैर को उठाने में शामिल मांसपेशियों को नियंत्रित करने का कार्य करती है | इसके आलावा घुटने में आये गंभीर चोट के कारण भी यह तंत्रिका दब सकती है | 
  • मांसपेशियों और तंत्रिका संबंधी दोष का उत्पन्न होना :- मांसपेशियों में दुर्लभता के अलग-अलग रूप इसके कमज़ोर होने का कारण बनती है और उसी तरह पोलियो जैसे अन्य तंत्रिका संबंधी दोष फुट ड्रॉप समस्या होने का कारण बनता है | 
  • मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में दोष :- रीढ़ की हड्डी या फिर मस्तिषक को प्रभावित कर रहे दोष जैसे की स्ट्रोक की समस्या, मल्टिपल स्केलेरोसिस या फिर एएलएस (एमियोट्रॉफिक लेटरल स्केलेरोसिस ) से भी फुट होने का कारण बनती है |    

यदि चलने के दौरान आपकी भी पैर की उंगलियां जमीन पर घिसट कर चलती है, तो बेहतर है की आप डॉक्टर के पास जाकर इसका इलाज करवाएं | इसके लिए आप यूनियन सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल से परामर्श कर सकते है | यहाँ के डॉक्टर एक्सपर्ट है, जो इस समस्या से आपको मुक्ति दिलाने में मदद कर सकते है |

Book Appointment